Home Blog Page 2

किसानो और कामदार मजदूर की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन टिकैत के नेता उपजिलाधिकारी से मुलाकात करेंगे

0

ब्यूरो चीफ सुभाष यादव हाथरस
(हिन्दी दैनिक अमर स्तंभ)
हाथरस/सिकंदरा राऊ में भारतीय किसान यूनियन टिकैत के नेताओं ने किसानो की कई मुख्य समस्याओं को लेकर एक बैठक की जिसमे आवारा पशु और खाद कीट नाशक दवाओं की बिक्री में धाधले बाजी जैसी कई मुख्य समस्याओं को लेकर उपजिलाधिकारी से मिलने जाएंगे किसानो के साथ साथ बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिले कामदार मजदूर की भी कई मुख्य समस्याओं को लेकर जायेगे किसान धान बाजरा उर्द आदि की फसलों की बुवाई कर रहा है आवारा गौ वंश के द्वारा जो नुकसान पहुंचाया जाता है उन्हे गो शालाओं में पहुचा ने काम कराए प्रशासन।जैसे कोई सरकार का मुख्य मंत्री या को मंत्री आता है तो गाय साड़ को प्रशासन पकड़वा कर बंद करा देता है ठीक उसी तरह किसानो की फसल को आवरा पशुओं द्वारा जो हानि पहुंचाई जाती हैं उसे रोकने के लिए प्रशासन को कोई ठोस कदम उठाना चाहिए जिससे किसानों की फसल की बर्बादी होने रोका जा सके इस समस्या को लेकर एक ज्ञापन देते भारतीय किसान यूनियन टिकैत के मंडल मीडिया प्रभारी पत्रकार सुभाष यादव और मंडल उपाध्यक्ष राजकुमार यादव मण्डल प्रवक्त उदयवीर सिंह राकेश यादव प्रचार मंत्री सत्यदेव पाठक जिला अध्यक्ष हाथरस। उमेद अली पम्मी साजिद खान अनार सिंह सत्यप्रकाश निहाल सिंह नायक विजेंद्र सिंह नरेश यादव सुनील कुमार करीब पन्द्रह किसान नेता उपजिलाधिकारी से मुलाकात कर अपनी मुख्य समस्याओं को उनके समक्ष प्रस्तुत करेगे बैठक के बाद किसानो ने किसान जिंदाबाद और किसान एकता जिन्दाबाद के नारे लगाते हुए बैठक का समापन किया

आईना // जानीमानी लेखिका माया सैनी की कलम से

0

दोस्ती कुछ गहरी हो गयी आईने से अब मेरी,
मैं छुप- छुप कर आईने से जब मिलती हूँ।।

जब भी ख़ुशी हो या गम या प्यार की घड़ियाँ,
दिल खोल कर आईने से ढेरों बातें करती हूँ।।

इक रोज जब आईने में खुद को झांक कर देखा,
अचानक चटक गया दीदार ये किसका  मैं करती हूँ।।

नज़रों से हटाकर चश्मा जो हक़ीक़त को देखा।
लोगों को देख अपना जमीर जगा लिया करती हूँ।।

आईना में उसका कुछ अलग ही रूप था ।
ज़ख़्मी दिल के अश्क भुलाया करती हूँ।।

मुझे जरुरत नहीं किसी नये आईने की अब ,
क्यूँकि महबूब की आँखों को मैं खूबसूरत लगती हूँ।। 

लकीरें,नसीब,किस्मत सब फरेब के आईने हैं।
हाथों में हो हाथ तेरा ऐसी  जिंदगी पर यकीं करती हूँ।। 

हरिपाल सिंह यादव की अध्यक्षता में अगसौली चौराहे पर भाईचारा सेवा समिति के तत्वाधान में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया

0

ब्यूरो चीफ सुभाष यादव
(हिन्दी दैनिक अमर स्तंभ)
हाथरस /सिकंदराराऊ भाईचारा सेवा समिति के बैनर तले एक काव्य गोष्ठी का आयोजन अगसौली चौराहे पर समाजसेवी हरपाल सिंह यादव की अध्यक्षता में आयोजित की गई तथा संचालन शायर आतिश सोलंकी ने किया।
मुख्य अतिथि के रुप में भाईचारा सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश यादव संघर्षी,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हरपाल सिंह यादव ने मां सरस्वती के सामने माल्यार्पण कर व दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया कार्यक्रम में आमन्त्रित सभी अतिथि,समाजसेवियों कवियों को आयोजन समिति द्वारा सम्मानित किया ।
शायर आतिश सोलंकी ने पढ़ा –
जो मां बाप में देखते हैं खुदा को
उन्हीं घर में जश्ने बहारा मिला है…
कवि महेश यादव संघर्षी ने पढ़ा-
होता बटबारा भाई का भाई से जब
भाग्यशाली के हिस्से में आती है मां..
हास्य कवि पंकज पण्डा ने पढा
मतलब का जमाना है कोई नहीं है काम का
हर कोई दीवाना है बस वाह वाही के नाम का
शायर शिवम अश्क सोरों ने पढ़ा-
मैं समंदर नहीं किनारा हूं
डूबती कश्तियों का सहारा हूं
कवि धीरु वर्मा ने पढा
सफर शब्दों से लिखा तो अर्थ कैसे जाने दूं
जीवन प्रेम से बना तो व्यर्थ कैसे जाने दूं
काव्य गोष्ठी में रिंकू यादव,हरीश यादव,अखिलेश शास्त्री,डॉ अवधेश कुमार, डॉ राहुल कुमार, संदीप कुमार, प्रमोद कुमार, सोनू यादव, मृदुल यादव एडवोकेट, देवा बघेल, मोहित कुमार कश्यप, सर्वेश कुमार,दिनेश कुमार आदि

कलम के जादूगर’ समूह द्वारा सावन महोत्सव कार्यक्रम रचनाकारों को किया सम्मानित।

0

जे पी शर्मा / दैनिक अमर स्तम्भ

जयपुर 13 जुलाई, शनिवार को कलम के जादूगर मंच द्वारा रेडिएंट होटल लखनऊ में सावन महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम जाने माने कवि, गीतकार और कलम के जादूगर के संस्थापक श्रेय तिवारी की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे डॉ जितेन्द्र कुमार गुप्ता ( सी.ई.ओ., एफ.एच. मेडिकल कॉलेज आगरा), सावन महोत्सव का उत्कृष्ट संचालन कवयित्री पूजा श्रीवास्तव, कवयित्री अलका बलूनी पंत, कवयित्री प्रीति पांडेय, कवयित्री ऋतु तिवारी एवं कवयित्री हेमा सागरिका द्वारा किया गया। इस भव्य काव्य सम्मेलन में भाग लेने हेतु देश भर से, पटल से जुड़े, कई वरिष्ठ एवं युवा रचनाकारों को आमंत्रित किया गया जिन्होंने अपनी कविताओं के माध्यम से सांस्कृतिक, सामाजिक और राजनीतिक जैसे विभिन्न विषयों पर अपने विचारों का प्रस्तुतीकरण किया। ग़ज़लों, गीतों और छंदों की रिमझिम फुहारों ने समा मनमोहक कर दिया। दर्शकों का मन कभी प्रेम रस से प्रफ्फुलित तो कभी हास्य व्यंग्य में सराबोर कभी भावुक तो कभी श्रोताओ के हृदय में ऊर्जा का संचार हुआ।
समारोह में सम्मिलित होने वाले रचनाकार कुलदीप शुक्ला, दीपांशी शुक्ला, रिज़वान फरीदी, डॉ बृजभूषण,ऋचा अग्रवाल, पंकज देहाती, विक्रम सिंह यादव बरनी,अलका निगम, दुर्वेश कुमार, डॉ किरण दयाल, अमित अल्प, अजय साथी, सरिता त्रिपाठी, पद्मनाभ त्रिपाठी, अभिलाषा अरुण, निर्देश कुमार विन, सीमा वर्णिका, विजय पुरोहित बिजू, कृष्ण कुमार दूबे, सुधीर यादव, प्रकाश मित्रवत, चेतना तिवारी, तरुण जैन, सीमा श्रीवास्तव, विनय कुमार साहू निश्छल, पूनम नैन मलिक, जगन्नाथ राय, पारुल चौधरी, बीरेंद्र गौतम, ऊषा शर्मा,अंजू अहिरवार, मनोज पांडेय मुसाफिर, अर्चना झा, श्राबोनी गांगुली, विशु तिवारी, अंजू चौधरी, शशांक मणि यादव, संगीता वर्मा, भूपेंद्र राघव, निशा सक्सेना, अनीता अरोड़ा, ज्योति शर्मा, अंजना जैन और नीलम गुप्ता व अन्य ने भाग लिया। सभी रचनाकारों को हिंदी काव्य साहित्य के उत्थान में कार्यरत होने हेतु कलम के जादूगर समूह द्वारा ‘केकेजे साहित्य गौरव सम्मान’ से भी नवाज़ा गया। सावन महोत्सव के आयोजक श्रेय तिवारी ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हिंदी काव्य साहित्य की अभिवृद्धि और नवीन रचनाकारों को मंच प्रदान करना है। कलम के जादूगर नियमित रूप से ऐसे सम्मेलनों का आयोजन विभिन्न शहरों में करते रहते हैं।

श्री राम धुन // जानेमाने लेखक , आशु कवि डॉ बलजीत सिंह अनन्त की कलम से

0

प्रभु शरणागत होकर देखो
श्रीरामधुन में खो कर देखो

प्रभु नाम है जग मेंउजाला
भीतर उज्ज्वल करने वाला
जप कर नूर ओ नूर हो गये
आनंद से वो भरपूर हो गये
छोड़ अहं ले प्रेम का कासा
अखंड ज्योति बोकर देखो

प्रभु शरणागत होकर देखो
श्रीरामधुन में खो कर देखो

कुछ न सूझे सघन अंधेरा
मोह माया कीचड़ बहुतेरा
मन दर्पण स्वच्छ कर लेना
चमक उठेगा,तेरा ही चेहरा
हृदय धड़कन राम नाम में
मोतिओं सा पिरोकर देखो

प्रभु शरणागत होकर देखो
श्रीरामधुन में खो कर देखो

श्वास प्रश्वास श्याम अर्पण
राम नाम जप पूजा तर्पण
राम चरणों में कर समर्पण
राम छवि युक्त मन दर्पण
राम प्यारा,जग पालन हारा
भर अनुराग में रो कर देखो

प्रभु शरणागत होकर देखो
श्रीरामधुन में खो कर देखो

डा.बलजीत सिंह अनंत

लक्ष्य अमर टैगोर संवाददाता आज दिनांक 14.07.2024 को भारतीय किसान यूनियन भानु व किसान क्रांति दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठा. भानु प्रताप सिंह जी गौतम बुध नगर के पैरामाउंट सोसाइटी में पहुंचकर पौधे लगाओ पर्यावरण बचाओ

0

आज दिनांक 14.07.2024 को भारतीय किसान यूनियन भानु व किसान क्रांति दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठा. भानु प्रताप सिंह जी गौतम बुध नगर के पैरामाउंट सोसाइटी में पहुंचकर पौधे लगाओ पर्यावरण बचाओ को आधार मानते हुए समस्त भारतीय किसान यूनियन भानू व देशवासियों से पौधे लगाओ पर्यावरण बचाओ का आवाहन किया साथ में मौजूद रहे राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी लक्ष्य अमर ठाकुर राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष ठाकुर किरनपाल सिंह जी राष्ट्रीय वरिष्ठ महामंत्री ठाकुर एनपी सिंह जी महिला मोर्चा राष्टीय अध्यक्ष पूनम चौहान जी राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोहित रावल जी सोसायटी के समस्त लोगो ने राष्टीय अध्यक्ष जी के साथ मिलकर वृक्षारोपण कर देश को प्रदूषण मुक्त भारत बनाने का संकल्प लिया
जय जवान जय किसान
#bku_bhanu #किसान_क्रांति_दल

प्रकृति हमारी // जानीमानी लेखिका उषा शर्मा की कलम से

0

नीला-नीला  ये नभ रहे  विस्तारित ज्यों,
धरा पर पितृ छाया का ज्यों आभास लगे।

भूरे  गुलाबी काले सफेद रंग बदलते मेघ,
बने- ठने सेठ कोई कोट पहने जल के भरे।

श्वेत हिम आच्छादित अविचल पर्वत खड़े,
दृढनिश्चयी योगी कोई ज्यों साधनारत रहे।

धीर गंभीर धरा ये भार वहन सदा है करे,
धैर्यपूर्वक माँ ज्यों परिवार का पोषण करे।

खारा सागर अथाह कितने गहन राज भरे,
मानव मनगहनता का अपार भाव ज्यों धरे।

ऊँचे-ऊँचे फलित वृक्ष  ये खड़े हैं हरे-भरे,
गुणों से भरपूर विनम्र ज्ञानी रहे शांत बड़े।

पर्वतों से निकलती नदियाँ बहें बलखाती,
रूपसी कोई ज्यों अमृत घट लेकर यूँ चले।

सांय-सांय चले पवन कभी हो जाए मौन,
प्रेयसी कोई वाचाल तो कभी मौन व्रत धरे।

श्रृंगारित पुष्प लताएँ मंद – मंद मुस्कुराएं,
लहराती फसलें लगे मानव के ही रूप धरे।

रंग बिरंगे फूलों की मनमोहिनी ये दुनिया,
जीवन की कला सिखाती शिक्षिका लगें।

रवि शशि,तारे चमक हैं सभी यूँ बिखरते,
कामयाबी हेतु हम भीअंधेरों से संघर्ष करें।

उषा शर्मा
जामनगर (गुजरात)

शनि जात में उमडी  अपार भीड़ में बुजुर्ग की मौत,  अभी बाकी है  एक और  शनिवार 

0

जलेसर  की खास खबर

शनि जात में उमडी  अपार भीड़ में बुजुर्ग की मौत,  अभी बाकी है  एक और  शनिवार

रवेन्द्र जादौन  दैनिक अमर स्तम्भ

एटा/जलेसर- शनिवार को शनिदेव के  स्थान  (बड़े मियां)  पर जात करने के लिए अपार भीड़ देखकर  लोग हैरान हो रहे हैं। कुछ लोगों की शनिवार के दिन बल्ले बल्ले हो जाती है। अधिक भीड़ होने के कारण मीररपुरा  फीरोजाबाद से  जात करने अए  बदन सिंह  70 वर्षीय बुजुर्ग की संदिग्ध अवस्था में  मौत  होने से  मृतक के परिजनों में  शोक की लहर  फैल गई। परिजनों ने जायरीनों की  अधिक भीड़ होने के कारण  परिवार से अलग होने पर घबराहट होने पर  प्राथमिक  स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती  कराया जहाँ चिकित्सकों ने बुजुर्ग को  मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने  व्यवस्था संभालते हुए शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर शव बिच्छेदन गृह एटा  भेज दिया है ।

कोतवाली जलेसर के  शनि जात  परिक्षेत्र की घटना बतायी जा रही है। शनि जात के मौके पर कुछ ठेकेदार प्रशासन की आखों में धूल झोंक कर  पार्किंग के नाम पर  जायरीनों से वाहन खड़ा  कराने के नाम से धन  उगाही करते रहते हैं। शनिवार के दिन सुबह से ही  जायरीनों की टोलियाँ  शनि देव की कृपा पाने के लिए कतारबद्ध होकर मुख्य दरवाजे से प्रवेश कर मत्था टेककर पीछे के दरवाजे से बाहर निकल कर मोरी की जात हेतु पैदल पैदल नाला बाजार होते हुए मोरी की जात कर पुण्य अर्जित करते हैं। भीड़ का फायदा उठाते हुए कुछ उपद्रवी तवके के लोग जायरीनों के फोन, गले की चैन व पर्स पर हाथ साफ कर देते हैं। शहर में आवागमन की व्यवस्था सुचारू रूप से नियमित करने हेतु पुलिस प्रशासन की ओर से चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था रहती है। मुख्य मार्ग पर जगह-जगह पुलिस दल निगरानी रखने का प्रयास करता रहता है। चौराहों पर जाम के झाम से निजात दिलाने की भी कोशिश की जाती है। समय-समय पर सचल दल मुख्य मार्ग पर गस्त करता रहता है।

जिला खनन अधिकारी व उपजिलाधिकारी ने अलग अलग दो स्थानों पर छापेमारी कर पांच डम्पर व जेसीबी को पकड कर कार्रवाई की।

0

मो.फारुक संवाददाता।

पुरवा/उन्नाव (दैनिक अमर स्तम्भ) तहसील क्षेत्र में रात को हो रहे खनन की शिकायते मिल रही थी जिसपर तहसील की राजस्व टीम व जिला खनन अधिकारी ने अलग अलग दो स्थानों पर छापेमारी कर पांच डम्पर व जेसीबी को पकड कर कार्रवाई की।

तहसील क्षेत्र के मंगतखेड़ा में शुक्रवार रात जेसीबी व डंपर से खनन होने की सूचना पर एसडीएम उदित नारायण सेंगर ने तहसील की राजस्व टीम को भेजकर छापेमारी के निर्देश दिए। तहसील की टीम के मौके पर पहुंचने पर एक जेसीबी व तीन डंपर खनन करते हुए पकड़े गए।टीम ने एसडीएम को जानकारी दी। जिसपर एसडीएम उदित नारायण सेंगर ने कोतवाली पुलिस को मौके पर बुलाकर जेसीबी व डंपरों को सीज कर सौंप दिया। वही क्षेत्र के ही डेला मोड़ के पास भी चल रहे खनन की किसी ने जिला खनन अधिकारी केबी सिंह को सूचना दे दी जिसपर शनिवार की सुबह मौके पर पहुंचकर खनन कर रहे जेसीबी व दो डंपरो में लदी मिट्टी को भी कब्जे में लिया। एसडीएम उदित नारायण सेंगर ने बताया कि पकड़े गए जेसीबी व डंपरो को सीज कर पुलिस के सुपुर्द किया गया है। वहीं इस संबंध में जिला खनन अधिकारी केबी सिंह ने बताया कि अवैध खनन पकड़ा गया नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

शिक्षकों सामूहिक इस्तीफा देने का सिलसिला जारी।

0

मो.फारुक संवाददाता।

हिलौली/उन्नाव (दैनिक अमर स्तम्भ) हिलौली विकास खंड के परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक संकुलों ने सामूहिक रुप से खण्ड शिक्षा अधिकारी को त्यागपत्र दिया। इस दौरान सभी शिक्षक संकुल ने हस्ताक्षर किए।

परिषदीय विद्यालयों में आनलाइन उपस्थिति एवं अभिलेखों के डिजिटलाईजेशन के बढ़ते विरोध के बाद लगातार शिक्षक संकुलों के द्वारा अपने संकुल पद से सामूहिक इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में शनिवार को हिलौली विकास खण्ड के समस्त शिक्षक संकुलों ने एकत्र होकर सामूहिक रुप से खण्ड शिक्षा अधिकारी को त्यागपत्र दिया। खण्ड शिक्षा अधिकारी की अनुपस्थिति में बीआरसी कार्यालय में कार्यरत उनके प्रतिनिधि ने त्यागपत्र स्वीकार किया। शिक्षक संकुलों ने अपने पत्र में बताया कि प्रदेश को प्रेरक प्रदेश बनाने एवं गुणवत्ता संवर्धन हेतु संचालित गतिविधियों के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु न्याय पंचायत स्तर पर एक वर्ष के कार्यकाल हेतु किया गया था किन्तु तबसे लगातार पूर्व में चयनित शिक्षक ही संकुल की जिम्मेदारी निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नये शिक्षकों को चयनित करना चाहिए किन्तु शासन व प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया। सूत्रों की मानें तो उक्त त्यागपत्र आनलाइन उपस्थिति एवं अभिलेखों के डिजिटलाईजेशन के विरोध में दिया गया है। शिक्षकों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि आनलाइन व्यवस्था धरातलीय हकीकत से बहुत दूर है। विभागीय उच्चाधिकारी पूरा उत्तरदायित्व शिक्षक के हवाले कर देना चाहते हैं जबकि विषम परिस्थितियों में भी शिक्षक अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों की उपस्थिति, रास्ते आदि चुनौतीपूर्ण है। किंतु उच्चाधिकारी उन चुनौतियों को नजरंदाज कर रहे हैं। सामूहिक त्यागपत्र के बाद उपस्थित शिक्षकों ने आनलाइन उपस्थिति एवं अभिलेखों के डिजिटलाईजेशन का विरोध भी जताया। इस दौरान जूनियर शिक्षक संघ के जिला कोषाध्यक्ष सरल कुमार ने बताया कि शिक्षक, शिक्षामित्र, अनुदेशक कर्मचारी संयुक्त मोर्चा की बैठक का आयोजन सोमवार को जिला मुख्यालय पर अपराह्न 2:30 बजे होना है जिसमें मुख्यमंत्री जी को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी महोदय को दिया जाएगा। इस दौरान ब्लाक अध्यक्ष कमलेश यादव, शिक्षक संकुलों में अनुराग मिश्रा, वंदना शर्मा, नीलम सचान, सतीश पाल, भरत कुरील, दीपक सिंह समेत एक सैकड़ा से अधिक शिक्षक मौजूद रहे।

Breaking News